April 13, 2021

TheLucknowExpress

बात सिर्फ़ लखनऊ की …..

बिना जानकारी दिए करी शादी – लाखों के ख़र्चे पर फिरा पानी

लखनऊ के पारा इलाक़े में बुधवार शाम तब अफ़रा तफ़री मच गई जब इलाक़े में चल रही शादी में पुलिस आ गई, दरसल धर्म परिवर्तन कराए बगैर हिंदू युवती की मुस्लिम युवक से हो शादी कराई जा रही थी, जिसकी सूचना जब पुलिस को मिली तो आनन फ़ानन में पुलिस मौक़े पर पहुँच, शादी रुकवाने लगी।

हालांकि, युवक-युवती व परिजन ने सहमति से विवाह होने की बात कही, लेकिन पुलिस नहीं मानी।
दरसल यूपी विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश का हवाला देते हुए पुलिस ने बताया की शादी करने से पहले “दोनों पछ को डीएम से धर्म परिवर्तन की अनुमति लेनी होगी” ।

Representative Image

काफ़ी देर तक चली बहस के बाद दोनो पछ “धर्म परिवर्तन अध्यादेश” के प्राविधान समझाने के बाद शादी को रोकने के लिए तैयार हुए और पुलिस को लिखित आश्वासन दिया।

आपको बता दे की अखिल भारतीय हिंदू महासभा उत्तर प्रदेश के जिलाध्यक्ष बृजेश कुमार शुक्ला ने पुलिस को धर्मांतरण बगैर शादी होने की जानकारी देते हुए शादी को तुरंत रुकवाने के लिए शिकायत की थी।

इंस्पेक्टर त्रिलोकी सिंह ने बताया कि पारा के नरपतखेड़ा डूडा कॉलोनी निवासी वाहन चालक विजय गुप्ता की बेटी रैना वहीं के निजी अस्पताल के कर्मचारी आदिल से शादी कर रही थी। समारोह विजय गुप्ता के घर होना था।

लड़की के पिता ने बताया की उसने किसी तरह पाई पाई जोड़ कर शादी का पंडाल और खाने पीने की व्यवस्था करी थी, परंतु इस प्रकार शादी रोक देने से उसका लाखों का नुक्शान हुआ, हालाँकि विजय ने सभी महमानो को खाना खिलाकर ही विदा किया।